National Pension Scheme 2021 | Benefits & Eligibility

National Pension Scheme | नेशनल पेंशन स्कीम ऑनलाइन आवेदन | National Pension Scheme Benefits | नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) : सब्सक्राइबर रजिस्ट्रेशन फॉर्म | National Pension Scheme Eligibility | नेशनल पेंशन स्कीम इन हिंदी | National Pension Scheme Returns | National Pension Scheme Interest Rate

रिटायरमेंट प्लैनिंग करना हमारे जीवन का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। हम सभी का सपना होता है कि रिटायरमेंट के बाद भी हमारा जीवन खुशहाली के साथ व्यतीत हो। हमें उस समय किसी प्रकार का संघर्ष न करना पड़े।  हमारा भविष्य सुरक्षित करने के लिए हम दिन रात कार्य करते है।  इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने नेशनल पेंशन स्कीम का आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से नेशनल पेंशन स्कीम से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं।

जैसे कि नेशनल पेंशन स्कीम क्या है?, इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य, योजना लाभ, इसकी विशेषताएं, आवेदक की पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, नेशनल पेंशन स्कीम के आवेदन की प्रक्रिया, सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर आदि। यदि आप National Pension Scheme से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी एक ही जगह प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें। क्योकि अधूरी जानकारी किसी काम की नहीं होती। 

National Pension Scheme

National Pension Scheme एक भारत सरकार द्वारा शुरू की गई महत्वकांशी निवेश की स्कीम है। नेशनल पेंशन स्कीम के माध्यम से रिटायरमेंट के बाद उन्हें पेंशन दी जाती है। इस योजना को 2004 में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों के लिए शुरू किया गया था। इसके बाद 2009 से यह स्कीम सभी वर्ग के नागरिको के लिए शुरू कर दी गई। और अब देश का कोई भी व्यक्ति अपने कामकाजी जीवन में पेंशन खाते में योगदान देकर इस स्कीम का लाभ ले सकता है ।

आवश्यकता पड़ने पर जमा की गई राशि का कुछ हिस्सा वह रिटायरमेंट से पहले भी निकाल सकते है और बची हुई धनराशि रिटायरमेंट के बाद नियमित आय के रूप में प्राप्त करने के लिए कर सकता है। National Pension Scheme में नियोक्ता और कर्मचारी दोनों ही निवेश कर सकते हैं।  National Pension Scheme के तहत कर्मचारी रिटायरमेंट के समय कुल जमा राशि का 60% तक निकाल सकते हैं तत्पश्चात उनकी बची हुई 40% राशि पेंशन योजना में चली जाती है।National Pension Scheme

Highlights Of National Pension Scheme (eNPS)

योजना का नाम नेशनल पेंशन स्कीम
किसके द्वारा शुरू की गई भारत सरकार द्वारा 
लाभार्थीभारत के नागरिक
योजना का उद्देश्यरिटायरमेंट के बाद निवेशको को पेंशन प्रदान करना
ऑफिशियल वेबसाइटयहां क्लिक करें
वर्ष 2021

नेशनल पेंशन योजना का नया अपडेट

 जैसा की हम जानते है कि अभी तक सरकारी कर्मचारियों को राष्ट्रीय पेंशन स्कीम के तहत भौतिक रूप में पंजीकृत किया जाता था। जो कि केंद्रीय रिकॉर्ड कंपनी, एजेंसी या फिर सरकार के नोडल कार्यालयों द्वारा अपनाई गई ऑनलाइन मॉड्यूल के माध्यम से किया जाता रहा है। लेकिन अब पेंशन फंड नियामक और विकास पढ़ीकरण द्वारा Natinal Pension Scheme के अंतर्गत पंजीकरण करने के लिए ऑनलाइन सुविधा आरंभ की जा रही है।

इसके अंतर्गत अब कर्मचारी अपना एन.पी.एस अकाउंट ऑनलाइन भी खोल सकते हैं। ऑनलाइन प्रक्रिया को ई-एनपीएस (eNPS) के नाम से जाना जाएगा। ई एनपीएस सीआरए द्वारा होस्ट किया जाएगा। जिसके अंतर्गत सब्सक्राइबर यहाँ अपना पंजीकरण कर सकते है और इस योजना का लाभ उठा सकते है। 

ई-एनपीएस – eNPS Registration

ई-एनपीएस के अंतर्गत सब्सक्राइबर पंजीकरण कर सकता है और इसके साथ ही PRAN नंबर भी जनरेट कर सकते है। वे सभी सब्सक्राइबर जिनका एनपीएस अकाउंट पहले से ओपन किया हुआ है वह ई एनपीएस के माध्यम से भी अपना योगदान दे सकते हैं तथा अपना टियर 2 अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारी अपने आधार कार्ड  ऑफलाइन ई केवाईसी के माध्यम से या फिर पैन तथा बैंक अकाउंट के माध्यम से पंजीकरण कर सकते हैं। ई एनपीएस के माध्यम से योगदान देने के लाभ इस प्रकार हैं जैसे –

  • सब्सक्राइबर्स को अपना अकाउंट शुरू करने पर होने वाला धन खर्च नहीं होगा, क्योंकि पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी।
  • इससे नोडल अधिकारियों का काम और भी आसान हो जाएगा।
  • नामांकन की प्रक्रिया पेपरलेस होगी।
  • फॉर्म भरते समय होने वाली गलतियों की संभावना कम होगी क्योंकि कर्मचारी स्वयं ही अपना फॉर्म भरेंगे।
  • इसके फलस्वरूप ज्यादा से ज्यादा एनपीएस अकाउंट आसानी से खुलेंगे।

नेशनल पेंशन स्कीम का उद्देश्य

नेशनल पेंशन स्कीम का प्रमुख उद्देश्य सभी निवेशकों को रिटायरमेंट के बाद पेंशन की राशि प्रदान करना है। इस National Pension Scheme के माध्यम से सभी नागरिक रिटायरमेंट के बाद भी आत्मनिर्भर बने रहेंगे और निवेशकों कभी भी आर्थिक परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस National Pension Scheme के अंतर्गत निवेशक अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार निवेश कर सकते हैं।

निवेशकों पर किसी प्रकार का कोई दबाव नहीं होगा।अपनी ईच्छा अनुसार निवेश कर सकते है। जिस से कि ज्यादा से ज्यादा लोग National Pension Scheme के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।National Pension Scheme अंतर्गत निवेशकों के दो प्रकार के अकाउंट ओपन किये जाते हैं जिन्हें Tier 1 औरTier 2 कहा जाता है। नेशनल पेंशन स्कीम में निवेश करने के पश्चात निवेशकर्ता रिटायरमेंट के बाद भी आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर रहेंगे। और उन्हें कभी आर्थिक चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। 

पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा आरंभ की जाएगी नेशनल पेंशन E- KYC सर्विसेस

नेशनल पेंशन स्कीम संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों की जरूरतों को पूरा करने के लिए शुरू की गई है। National Pension Scheme तथा अटल पेंशन योजना पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण के माध्यम से शुरू की गयी दो प्रमुख योजनाएं हैं। इन दोनों योजनाओं के माध्यम से असंगठित क्षेत्र तथा संगठित क्षेत्र दोनों में काम करने वाले कर्मचारियों की आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद की जायेगी । पेंशन फंड नियामक और विकास पाधिकरण द्वारा नेशनल पेंशन स्कीम व अटल पेंशन योजना के माध्यम से ग्राहकों के लिए ई-केवाईसी सेवा शुरू करने का संकल्प लिया गया है।

  • इस सेवा शुरू करने के लिए राजस्व विभाग से मंजूरी प्राप्त कर ली गई है। ऑनलाइन ई-केवाईसी के द्वारा खाता खोलने की प्रक्रिया अभी से और भी आसान हो जाएगी। अब नागरिकों को National Pension Scheme के अंतर्गत आवेदन दाखिल करने के लिए तथा प्रोत्साहन राशि के रूप में दिया जाने वाला लाभ प्राप्त करने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने पर नागरिको को होने वाली परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • अब भारत सरकार द्वारा ई-केवाईसी की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है जिस के फलस्वरूप आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल हो जाएगी। इससे प्रणाली में पारदर्शिता आवागमन होगा। E-governance इंफ्रास्ट्रक्चर पहले से और मजबूत होगा तथा इस के प्रति सब्सक्राइबर्स का भरोसा भी बढ़ेगा।  
  • ऑनलाइन ई-केवाईसी प्रक्रिया से आवेदनकर्ताओं के कीमती समय और धन दोनों की ही बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शित आएगी । अब लोगों को कागजी कार्रवाई की लंबी प्रक्रिया के झंझट से मुक्त हो जायेंगे , किसके फलस्वरूप लाभ ये होगा कि ज्यादा से ज्यादा लोग National Pension Scheme के अंतर्गत आवेदन करने के लिए प्रेरित होंगे।
  • पेंशन फंड नियामक और विकास पाधिकरण द्वारा ओटीपी प्रक्रिया पर आधारित प्रमाणीकरण, पेपरलेस ऑन बोर्डिंग, ई-साइन आधारित प्रमाणीकरण, वीडियो ग्राहक पहचान को सुगम बनाने हेतु  दुरुस्त ऑनबोर्डिंग, ऑनलाइन निकास सुविधा , सरकारी क्षेत्र में काम करने वाले ग्राहकों के लिए ऑनलाइन नामांकन करना आदि जैसी मूल सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। एन.एस.डी.एल e-governance इंफ्रास्ट्रक्चर को केंद्रीय रिकॉर्ड रखने वाली एजेंसी बनाने का कार्य किया गया है। जो कि ग्लोबल आधार पर यूजर एजेंसी के रूप में काम करेगी।

नेशनल पेंशन स्कीम (eNPS) के लाभ तथा प्रमुख विशेषताएं

  • नेशनल पेंशन स्कीम के निदेशकों को रिटायरमेंट के बाद निर्धारित पेंशन प्रदान की जाएगी।
  • अगर निवेशक ने वार्षिकी (Annuity) की खरीद में निवेश किया है तो उसे कर में पूरी तरह से छूट का लाभ प्राप्त होगा।
  • ₹50,000 रुपये तक की अतिरिक्त की कटौती सेक्शन 80 CCE के तहत क्लेम किया जा सकता है ।
  • National Pension Scheme का सब्सक्राइबर्स रुपए की कुल सीमा में इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80CCD(1) के अंतर्गत ग्रॉस इनकम का 10 फ़ीसदी तक के टैक्स में डिडक्शन क्लेम कर सकता है। सेक्शन 80 CCE के तहत यह लिमिट 1.5 लाख तक निर्धारित की गयी है।
  • नेशनल पेंशन स्कीम के अंतर्गत न्यूनतम निवेश की सीमा ₹6000 रुपये निर्धारित की गयी है।
  • यदि ग्राहक नेशनल पेंशन स्कीम के अंतर्गत न्यूनतम सीमा जितना निवेश करने में असक्षम हैं तो उसका अकाउंट फ्रीज कर दिया जाएगा तथा इसके बाद ग्राहक को अपना खाता अनफ्रीज करवाने के लिए ₹100 रुपये की पेनल्टी का भुगतान करना पड़ेगा।
  • पहले इस सीमा में योगदान 10 फ़ीसदी तक हुआ करता था जो कि भारत सरकार ने अब इसे 10 फीसदी से बढ़ाकर 14 फ़ीसदी तक कर दिया है।
  • यदि योजना के तहत निवेश करने वाले व्यक्ति की मृत्यु 60 वर्ष से पहले हो जाती है तो पेंशन की राशि निवेशक के नॉमिनी को प्रदान कर दी जाएगी।
  • भारत सरकार के फाइनेंस मिनिस्टर ने “National Pension Scheme Trust” को “पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी” से अलग रखने का फैसला किया है।
  • नेशनल पेंशन स्कीम के तहत निदेशकों को एक परमानेंट रिटायरमेंट खाता नंबर उपलब्ध कराया जाता है जो कि 12 अंकों का नंबर होता है। इस नंबर से निवेशक अपनी धनराशि का लेन देन कर सकते हैं।
  • National Pension Scheme के तहत लाभ लेने के लिए  किसी भी ग्राहक के द्वारा एक सेअधिक अकाउंट नहीं खुलवाएं जा सकते हैं।

नेशनल पेंशन स्कीम के खाते के प्रकार

National Pension Scheme में दो तरह के खाते होते हैं जो कि इस प्रकार हैं –

  • Tier 1- इस अकाउंट में ग्राहक द्वारा जितनी भी धनराशि जमा करवाई जाएगी , उसे अवधि की समाप्ति से पहले नहीं निकाले जा सकते । यह अकाउंट खुलवाने के लिए आपको Tier 2 का अकाउंट होल्डर होना अनिवार्य नहीं है। जब आप स्कीम की समय अवधि को पूरा कर लेंगे तब ही इसके पैसे आप निकाल सकते हैं।
  • Tier 2- इस अकाउंट को शुरू करने के लिए आप के पास Tier 1 का अकाउंट होल्डर होना अनिवार्य है। इसमें अकाउंट के तहत उपभोक्ता अपनी ईच्छा के अनुसार कभी भी रुपये निकाल सकते है। Tier 2 का अकाउंट सभी को खुलवाना अनिवार्य नहीं किया गया है। यह खाता खुलवाना उपभोक्ता की ईच्छा पर निर्भर करता है। 

नेशनल पेंशन स्कीम के लाभार्थी कौन होंगे ?

निम्नलिखित भारतीय नागरिक इस खाते में निवेश कर योजना का लाभ ले सकते हैं:-

  • केंद्रीय सरकार के अंतर्गत कार्य करने वाले कर्मचारी
  • राज्य सरकार के अंतर्गत कार्य करने वाले कर्मचारी
  • निजी क्षेत्र के अंतर्गत कार्य करने वाले कर्मचारी
  • भारत में निवास करने वाले यहाँ के आम नागरिक ही National Pension Scheme का लाभ उठा सकते है 

नेशनल पेंशन स्कीम हेतु आवश्यक पात्रता व मापदंड क्या है ?

  • आवेदन करने वाला भारतीय नागरिक होना जरूरी है।
  • रेजिडेंट नॉनरेजिडेंट दोनों प्रकार के नागरिक इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं।
  • नेशनल पेंशन योजना में निवेश करने के लिए निवेशक की उम्र 18 से 60 साल के बीच होनीअनिवार्य है। 
  • ई-केवाईसी प्रक्रिया के बाद ही नागरिक National Pension Scheme में शामिल हो सकता है।

 नेशनल पेंशन स्कीम के लिए जरूरी दस्तावेज क्या है ?

निम्नलिखित प्रकार के दस्तावेज नामांकन कराने के लिए आवश्यक है –

  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र (यह आवेदक का दसवीं कक्षा या अन्य कोई शैक्षिक प्रमाण पत्र हो सकता है )
  • सबस्क्राइबर्स रजिस्ट्रेशन फॉर्म

नेशनल पेंशन स्कीम से अपनी धन राशि को विड्रोल कैसे करें ?

यदि इस योजना के उपभोक्ता National Pension Scheme से विड्रॉल करना चाहते हैं तो उसे विड्रोल एप्लीकेशन POP सभी जरूरी दस्तावेजों के साथ सबमिट करनी होगी। विड्रॉल करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों का होना जरुरी है –

    1. PRAN CARD
    2. लाभार्थी के आधार कार्ड की प्रति 
    3. निवास प्रमाण पत्र की प्रति 
    4. कैंसिल चेक

नेशनल पेंशन स्कीम में किये गए बदलाव 

केंद्रीय मंत्रालय ने वर्ष 2018 में नेशनल पेंशन स्कीम में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं जिस का उल्लेख इस प्रकार है –

  • इस महत्वपूर्ण बदलाव से पूर्व National Pension Scheme में कर्मचारियों को 10% धनराशि का योगदान करना होता था जो कि वर्ष 2018 बढ़ाकर 14% तक कर दिया गया है।
  • उपभोक्ता की 60% राशि को कर से मुक्त कर दिया गया है।
  • इस सुधार में कर्मचारियों को पूर्ण स्वतंत्रता दी गई है कि उनके द्वारा पेंशन में निवेश किया गया धन किस फंड में निवेश किया जाना चाहिए।
  • अब केंद्रीय कर्मचारी अपनी ईच्छा अनुसार कभी भी वर्ष में एक बार पेंशन फंड में बदलाव कर सकते हैं।

नेशनल पेंशन स्कीम में खाता खोलने की प्रक्रिया

ऑफलाइन माध्यम से 

  • आपको सबसे पहले पीओपी-पॉइंट ऑफ प्रेजेंस खोजना होगा।
  • फिर आपको पीओपी से सब्सक्राइब फॉर्म लेना है। 
  • अब आपको इस सब्सक्राइबर फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक भरना होगा। आवेदक सब्सक्राइबर फॉर्म को यहां दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी डाउनलोड कर सकते है।Subscriber Registration Form

  • अब आवेदक को सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करना है। 
  • इसके पश्चात आप को इस फॉर्म को पीओपी- पॉइंट ऑफ प्रेजेंस में जमा करना होगा। इस फॉर्म को केवाईसी पेपर्स के साथ जमा करना है।
  • इसके बाद अब आपको पॉइंट-ऑफ-प्रेजेंस से एक रेफरेंस नंबर मिलेगा, जिसके माध्यम से आवेदनकर्ता अपनी एप्लीकेशन ट्रैक कर सकते हैं। तथा उसकी स्थिति की जांच कर सकते है। 
  • आवेदन पत्र जमा करने के साथ ही आपको अपनी पहली कंट्रीब्यूशन जमा करनी होगी। इसके लिए आप को इंस्ट्रक्शन स्लिप भी जमा करनी होगी, जिसमें आपकी पेमेंट का विवरण दिया गया होगा। 

ऑनलाइन माध्यम से 

Tier 1

  • सबसे पहले आवेदनकर्ता नेशनल पेंशन सिस्टम की आधिकारिक  वेबसाइट पर जाना होगा।

online 1

  • अब आप के सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर यहाँ आपको Open Your NPS Account/ Contribute Online के लिंक पर क्लिक करना होगा।

online 2

  • इसके पश्चात आप को National Pension System पर क्लिक करना होगा।
  • अब यहाँ आपको रजिस्ट्रेशन के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा।

online 3

  • यहाँ आपके सामने रजिस्ट्रेशन का फॉर्म खुलकर आएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपसे पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी जैसे की आपके एप्लीकेशन का टाइप, स्टेटस आफ एप्लीकेंट, रजिस्टर विद (आप किसके माध्यम से रजिस्ट्रेशन करना चाहते है), आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करना होगा और अकाउंट टाइप में Tier 1 Only का चुनाव कीजिए।
  • इसके बाद अब आप को कंटिन्यू पर क्लिक करना है। 
  • यहाँ अब आपके सामने कंपलीट पेंडिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा इसमें आपकी सभी जरूरी जानकारियां जैसे कि एक्नॉलेजमेंट नंबर, एक्नॉलेजमेंट डेट, फर्स्ट नेम, आवेदक की डेट ऑफ बर्थ, ईमेल पता आदि भरना होगा ।
  • अब इसके बाद आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा ।
  • सब्मिट पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक ई- साइन का  फॉर्म खुलकर आएगा इसमें आपसे मांगी गई सभी जरूरी जानकारियां भरनी होगी और फिर सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपकी ऑनलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Tier 1 तथा Tier 2

  •  इसके लिए सबसे पहले आपको National Pension System कीआधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ विजिट करने के बाद आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम की वेबसाइट का होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके बाद होम पेज पर आपको ओपन योर एनपीएस अकाउंट/ कंट्रीब्यूट ऑनलाइन के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इस के पश्चात आपको नेशनल पेंशन सिस्टम लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • यहाँ पहुंचने पर अब आपको रजिस्ट्रेशन के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करना है ।
  • अब आप के सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • दिए गए इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में अपनी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां दर्ज करनी होंगी जैसे की एप्लीकेशन का टाइप, स्टेटस आफ एप्लीकेंट, रजिस्टर विद, आवेदक का आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करने के बाद यहाँ अकाउंट टाइप में टायर Tier 1 तथा Tier 2 सिलेक्ट कीजिए।
  • अब इसके अगले पड़ाव के लिए बस आपको कंटिन्यू पर क्लिक करना होगा।
  • यहाँ आने के बाद अब आपके सामने कंपलीट पेंडिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा , जिसमे आपको अपनी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे कि एक्नॉलेजमेंट नंबर, एक्नॉलेजमेंट डेट, फर्स्ट नेम, अपनी डेट ऑफ बर्थ, वैध ईमेल एड्रेस, आदि दर्ज करें ।
  • इसके बाद अब आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा ।
  • अब यहाँ  आपके सामने एक ई- साइन का फॉर्म खुलकर आएगा इसमें सभी जरूरी जानकारियां दर्ज करनी होगी और इसके बाद सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

नेशनल पेंशन स्कीम के तहत कंट्रीब्यूशन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको National Pension System कीआधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ आने के बाद आपके सामने नेशनल पेंशन स्कीम का होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको नेशनल पेंशन सिस्टम के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब यहाँ आपको कंट्रीब्यूशन के लिंक पर क्लिक करना है ।

Contribution 1 Copy

  • अब आपके सामने यहाँ कंट्रीब्यूशन फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको अपना PRAN नंबर,जन्म तिथि, NPS सबस्क्राइबर का टाइप , ओटीपी प्राप्त करने के लिए SMS या अपने ईमेल पते का प्रकार और  कैप्चा कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात अब आपको Verify PRAN के लिंक पर क्लिक करना है ।
  • अब आपको भुगतान करने के लिए मांगी गई जानकारी का विवरण दर्ज  करना होगा। 
  • इस प्रकार आप कंट्रीब्यूशन कर सकेंगे।

टियर 2 शुरू करने की प्रक्रिया

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम नेशनल पेंशन सिस्टम की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा। 
  • होम पेज पर आपको नेशनल पेंशन सिस्टम के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • यहाँ विजिट करने पर अब आपको Tier II Activation के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।

Tier II Activation

  • इसके बाद अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा इसमें आपको अपना परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर (PRAN), डेट ऑफ बर्थ (DOB ), परमानेंट अकाउंट नंबर (PAN)तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आप को Verify PRAN के दिए बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब इस के बाद आपको ई साइन फॉर्म भरना होगा।
  • जिसके पश्चात अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप टियर 2 एक्टिवेट कर सकेंगे।

D-Remit VID Generation करने के लिए प्रक्रिया

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम नेशनल पेंशन सिस्टम की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा। 
  • होम पेज पर आपको नेशनल पेंशन सिस्टम के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब यहाँ आपको D-Remit VID Generation के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको कंटिन्यू पर क्लिक करना होगा।

D Remit VID Generation

 

  • इस चरण को पूरा करने के पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुल कर आएगा जिसमें आपसे पूछी गई जरुरी जानकारी जैसे कि परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर (PRAN), डेट ऑफ बर्थ (DOB ) , ओटीपी तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • मांगी गयी जानकारी भरने के बाद अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप D-Remit VID Generation कर सकेंगे ।

Annual Transaction Statement अपने ईमेल पर देखने की प्रक्रिया

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम नेशनल पेंशन सिस्टम की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा। 
  • होम पेज पर आपको नेशनल पेंशन सिस्टम के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • यहाँ आने पश्चात अब आपको Anual Transaction Statement on Email के दिए लिंक पर क्लिक करना है ।

Anual Transaction Statement on Email Copy

  • इसके पश्चात आप के सामने नया फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको अपना परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर (PRAN नंबर) तथा  दिया गया कैप्चा कोड खाली बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब सिर्फ आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे ट्रांजैक्शन स्टेटमेंट आपके ईमेल पते पर प्राप्त हो जाएगी।

पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • इस के लिए आपको सबसे पहले नेशनल पेंशन सिस्टम की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने National Pension Scheme की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आपको Login के टैब पर क्लिक करना होगा।Login
  • इसके पश्चात आपके सामने लॉगइन के लिए फॉर्म खुलकर आएगा।
  • अब आपको इसमें अपनी कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • आप से लॉगइन फॉर्म में पूछी गई जानकारी जैसे कि यूजर नेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज को करना होगा।
  • बस इसके पश्चात आपको सिर्फ लॉगइन के बटन पर क्लिक करना है ।
  • इस प्रकार आप नेशनल पेंशन सिस्टम के पोर्टल पर लॉगिन कर सकेंगे ।

एनपीएस ऐप कैसे डाउनलोड करें ?

  • एनपीएस एप डाउनलोड करने के लिए अपने मोबाइल फोन में गूगल प्ले स्टोर या फिर एप्पल एप स्टोर ओपन करना होगा।
  • अब आपको सर्च के बॉक्स में NPS by NSDL e-gov दर्ज कर उसे सर्च करना होगा।NPS APP
  • इसके पश्चात आपके सामने एक सूची आएगी।
  • आपको इस दी गई सूची में सबसे ऊपर वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब इसके बाद आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप National Pension System App अपने मोबाइल पर डाउनलोड कर पाएंगे।

Grievance दर्ज करने की प्रक्रिया

  • इस के लिए आपको सबसे पहले National Pension Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आने के बाद अब आपको सब्सक्राइबर कॉर्नर के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको लॉज ग्रीवेंस/इंक्वायरी के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।

Grievance

  • इसके बाद अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • आपको इस पेज में अपनी कैटेगरी का चयन करें। 
  • अब इसके पश्चात आपके सामने Grievance फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी अपनी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Grievance दर्ज कर पाएंगे।

Grievance स्टेटस चेक करने की विधि 

  • इस के लिए आपको सबसे पहले National Pension Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आप को सब्सक्राइबर कॉर्नर के टैब पर क्लिक करना है ।
  • अब आपको लॉज ग्रीवेंस/इंक्वायरी के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Track Your Grievance/Enquiry सेक्शन में जाना होगा।
  • यहाँ  आने के बाद अब आपको अपनी कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना रिफरेंस नंबर दर्ज करना है ।
  • अब आपको सिर्फ सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • ग्रीवेंस स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।

अपनी नजदीकी POP-SP खोजने की प्रक्रिया

  • आपको सबसे पहले National Pension Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आपको दिखाई रहे Find your nearest POP- SP के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।

Find your nearest POP SP

  • यहाँ अब आपके सामने नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य का चयन करना है ।
  • अब इसके बाद आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • आपकी नजदीकी POP-SP से संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

Annuity की गणना करने की प्रक्रिया

  • आपको सबसे पहले National Pension Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आपको Annuity केलकुलेटर के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।

Annuity Calculator

  • अब आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा जिसमें आपसे पूछी गई सभी जानकारी प्रदान करें जैसे कि आप की डेट ऑफ बर्थ, लिंग , कैप्चा कोड, Annuity फ्रिकवेंसी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब इसका विवरण आपके सामने होगा। 

PRAN Card Dispatch Status देखने की प्रक्रिया

  • आपको सर्वप्रथम नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने National Pension Scheme की वेबसाइट का होमपेज ओपन होगा।
  • इसके बाद होम पेज पर आपको ट्रैक PRAN कार्ड स्टेटस के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा।

PRAN Card Dispatch Status

  • अब आपके सामने एक नई विंडो खुलकर आएगा जिसमें आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी है ।
  • अब आपको पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • PRAN कार्ड स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगा ।

PRAN Application Status देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपके सामने National Pension System (NPS) वेबसाइट का होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आने के बाद आपको PRAN एप्लीकेशन स्टेटस के दिए लिंक पर क्लिक करना होगा। 

PRAN Application Status

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा इसमें आपको कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • अब आपसे पूछी गई जानकारी दर्ज करें। 
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।

रजिस्ट्रेशन तथा कंट्रीब्यूशन स्टेटस देखने की विधि 

Registration and Contribution Status

  • अब आपके सामने एक विंडो खुल कर आएगी जिसमें आपको रिसिप्ट नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होता है ।
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन तथा कंट्रीब्यूशन स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगा ।

Contact Us

  • संपर्क करने के लिए आपको नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलेगा । होम पेज पर आपको Contact Us का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • यहाँ आपको Contact Us पर क्लिक करना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। जिस पेज पर आपको कांटेक्ट की सारी डिटेल्स मिल जाएगी।

National Pension System NPS Helpline Number

हमने इस लेख के द्वारा आपको National Pension Scheme से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। हम आशा करते है कि अब आपको अपने अभी प्रश्नों के जवाब मिल गए होंगे। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की संका का सामना कर रहे हैं तो आप NPS के हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का निवारण कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 1800-1100-69 है। इस प्रकार की अन्य योजनाओं की जानकारी के लिए WWW.LATESTSCHEME.COM से जुड़े रहे। 

Rohit Singh

Web Developer SEO Expert Wordpress

You may also like...