Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना  

Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana

जैसे की हम जानते है कि कोरोना वायरस से  देश के लोगो पर आई विपदा के कारण सम्पूर्ण भारतवर्ष में 21 दिन का लॉकडाउन ( 14 अप्रैल तक के लिए ) लागू किया गया है । इस विकट परिस्थिति में देश के गरीब लोग खाने के लिए राशन को लेकर चिंतित है इसलिए भारत सरकार ने इस योजना के माध्यम से  देश के गरीबो को दो समय भोजन के लिए अन्न और धन दोनों  के जरिये सहायता प्रदान करने का प्रयास कर रही है।हम आपको इस लेख के माध्यम से Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर रहे है ।अतः आप इस लेख को आखिर तक पढ़े,कोई भी आवश्यक सूचना को न छोड़े।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana के अनुसा र केंद्र सरकार देश में गरीब तबके के लोगो को आर्थिक रूप से सहायता करने हेतु सीधे लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर ) के माध्यम से धनराशि  पहुँचायी जाएगी | देश की वित् मंत्री श्री निर्मला सीतारमण जी ने 26 मार्च 2020 को एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना” से जनता को मिलने वाले लाभों के बारे में बताया गया और वित् मंत्री श्री निर्मला सीतारमण जी ने इस योजना के साथ साथ कुछ अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की घोषणाएं की गयी है ।

“प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना” की घोषणा देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी  के द्वारा देश की  गरीब जनता को लाभ पहुंचाने हेतु किया है। Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana के अंतर्गत देश के लगभग  80 करोड़ गरीब परिवारों को हर महीने सस्ते दाम पर राशन कार्ड की सहायता से 2 रूपये /किलो गेहूँ दिए जायेगा और 3 रूपये /किलो चावल उपलब्ध कराया जायेगा। इस योजना के तहत देश के अंदर  80 करोड़ राशन कार्ड धारक लोगो को प्रति महीना 7 किलो राशन पर सब्सिडी दी जायेगा ।

“प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना” का आरम्भ 

योजना :-प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना 2020 
योजना :-प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना 2020 
शुरू की :-प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
उद्देश्य :-देशवासियों को राशन पर सब्सिडी प्रदान करना 
लाभार्थी :-देश के 80 करोड़ लाभार्थीयों  हेतु
शुभारम्भ किया :-26 मार्च 2020 

“प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना” के लिए पंजीकरण कैसे करे ?

देश में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के गरीब लोग “Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana” के अंतर्गत सब्सिडी पर खाने के लिए राशन सरकार के माध्यम से प्राप्त करना चाहते है तो उनको  निचे दिए गए दिशा निर्देश को ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा। “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना”  के तहत सहायता  प्राप्त करने के लिए उन्हें कोई पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है ।

देश में जो इच्छुक लाभार्थी परिवार  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना के अंतर्गत 2 रूपये प्रतिकिलो की दर से गेहू और 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से चा वल लेना चाहते है तो वह अपने नजदीकी राशन की दुकान पर जाकर अपने राशन कार्ड के माध्यम से प्राप्त कर सकते है ।इस  राशन सब्सिडी पर राशन लेकर देश के गरीब परिवारो के लोग अपना जीवनयापन कर सकते है

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

देश के अंदर कोरोना  वायरस के लेकर  प्रधानमंत्री  नरेंदर मोदी जी के द्वारा पुरे देश में 21 दिन के लिए तालाबंदी की घोषणा  करने के पश्च्चात लोगों को अगले आने वाले 21 दिनों के लिए अपने घरों के अंदर रहने के लिए घोषणा  करने के बाद यह निर्णय लिया गया है। नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत सरकार ने देशभर के लगभग 80 करोड़ गरीब लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए संसार की सबसे महा खाद्य सुरक्षा योजना को मंजूरी  प्रदान कर दी है।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana के तहत देश के 80 करोड़ लाभार्थियों को तीन महीनो तक सस्ती दरों पर राशन उपलबध कराया जायेगा । देश में इससे पहले राशन लेने वाले लोगो को 27 रूपये / किलोग्राम  गेहू और 37 रूपये / किलोग्राम चावल हर महीने दिया जा रहा था वो अब 2 और 3 रूपये किलो दिया जायेगा ।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना का प्रमुख उद्देश्य

हमारे देश मर बहुत से ऐसे लोग है जो आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग के है तथा मेहनत मज़दूरी से अपना जीवन जी रहे है लेकिन इस कोरोना वायरस के दुनिया भर में मचे कहर की वजह से सरकार को पुरे  देश में 21 दिन का लॉक डाउन करना पड़ा है जिसके कारण  दिहाड़ी मजदूरी पर जाने वाले गरीब लोग अपने काम पर नहीं जा पा रहे है इतना ही नहीं इसके परिणामस्वरूप उन्हें खाने-पीने के राशन को खरीदने में परेशानियों का सामना करना पद रहा है

इस समस्या का समाधान  लिए ही माननीय प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी जी ने इस Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana का ऐलान किया है इस योजना के माध्यम से देश के लोग सब्सिडी पर हर महीने 7 किलो राशन खरीद सकते है । फलस्वरूप “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना” के  ज़रिये देश के गरीब लोग तालाबंदी  के समय  में घर में बैठकर अच्छे से अपना  जीवनयापन कर सकते है ।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना के लाभ

  • इस कल्याणकारी योजना का लाभ देश के सभी राशन कार्ड धारक उठा सकते है ।
  • योजना के तहत देश के लगभग 80 करोड़ लाभार्थियों लोग के परिवारों  को राशन सब्सिडी प्रदान की जा रही है।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना के अंतर्गत देश के 80 करोड़ लाभार्थियों को 3 महीने तक 7 किलो राशन भारत सरकार द्वारा लोगो को प्रदान  किया जायेगा ।
  • हमारे देश की जनता को तीन महीनो तक गेहूँ 2 रूपये /किलोग्राम  और चावल 3 रूपये प्रति /किलोग्राम की दर से राशन की दुकानों पर उपलब्ध कराया  जायेगा ।

यह भी पढ़े :- मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना। 


Garib Kalyan Packages

  • वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से प्रभावित अर्थव्यवस्था और गरीबों की सहायता करने के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का घोषणा की है। वित्त मंत्री जी ने कहा कि भारत  सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लॉकडाउन से प्रभावित हुए गरीब तबके के लोगों की पूरी तरह सहायता करेगी। 
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी  ने यह भी कहा कि सरकार लॉकडाउन के बाद से लगातार लोगों की मुश्किलों को कम करने के लिए निरन्तर कार्य में लगी हुई है।  वित्त मंत्री जी  ने 24 मार्च 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से तीन महीने तक देश के किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर कोई चार्ज न लगने का घोषणा की थी।
  • हमारे देश की वित् मंत्री माननीय निर्मला सीतारमण जी ने देश के किसानों, गरीब विधवा, मनरेगा मजदूर, गरीब दिव्यांग और गरीब पेंशन धारक,उज्जवला के लाभार्थी, जनधन योजना, संगठित क्षेत्र के कर्मचारी,  स्वयं सहायता समूह की महिलाएं और निर्माण सम्बन्धी कार्यो में काम कर रहे लोगों के लिए महत्वपूर्ण घोषणाएँ की है ।

चिकित्स्कों व आशा वर्कर्स को इंश्योरेंस कवर देने की घोषणा

  • देश के बहुत से लोग जो  चिकत्सा क्षेत्र से जुड़े हुए है तथा कोरोना वायरस महामारी से पीड़ित लोगो का इलाज करने के लिए अपनी जान को दावं लगा रहे है उनको  केंद्र सरकार द्वारा 50 लाख रूपये तक का जीवन बीमा प्रदना किया जायेगा । इस योजना से 20 लाख कर्मचारियों को फायदा पहुंचाया जायेगा , जिसमे  आशा वर्कर्स और डॉक्टर आशा वर्कर, नर्स और अन्य मेडिकल स्टॉफ भी शामिल हैं। 
  • “उज्ज्वला योजना” के लाभार्थियों को अगले तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर वितरित किये जाएंगे। जिसके माध्यम से देश के  लगभग 8  करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ होगा।
  • प्रधानमंत्री जनधन योजना” के तहत देश की महिला जनधन खाताधारकों को 3 महीने तक 500 रुपये / माह  की धन राशि प्रदान  की  घोषणा की गयी है । इससे लगभग देश की 20  करोड़ महिलाओं को सीधे सीधे लाभ दिया जायेगा ।

दीनदयाल योजना

दीनदयाल योजना के माध्यम से “महिला स्वयं सहायता समूह” की महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा।  पहले इनको 10 लाख तक का लोन उपलब्ध कराया जाता था लेकिन आने वाले अगले तीन महीने तक महिला जनधन खाताधारकों को 500 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे।  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने कहा कि इसका फायदा लगभग 20 करोड़ महिलाओं को होगा। 

तीन महीने तक EPF सरकार स्वयं भरेगी

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana के अंतर्गत सरकार  ईपीएफ कंट्रीब्यूशन का भुगतान स्वयं  करेगी।  वित्त मंत्री  निर्मला सीतारमण जीने कहा सरकार पीएफ कंट्रीब्यूशन कंपनी की 12 प्रतिशत और कर्मचारी की 12 प्रतिशत इसका मतलब 24 फीसदी सरकार स्वयं अदा करेगी।  अगले तीन महीने तकईपीएफ कंट्रीब्यूशन सरकार भरेगी। तथा  इसका लाभ 100 कर्मचारियों वाली कंपनीयों  को मिलेगा।  15 हजार रुपये से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को इसका लाभ होगा। 

मुफ्त सिलिंडर उपलब्ध करने की घोषणा

उज्ज्वला योजना” के तहत देश की लगभग 8 करोड़ महिला लाभार्थियों को लाभ मिलेगा। इन्हें तीन महीने तक फ्री सिलिंडरउपलब्ध कराये जाएंगे। मनरेगा के मजदूरों की दिहाड़ी  को भी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये कर दी गई है.

दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये की अतिरिक्त सहायता 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये की अतिरिक्त धनराशि प्रदान की जाएगी ।  यह धनराशि भी अगले तीन महीने के लिए है। तथा  इसे दो किस्त में प्रदान किया जाएगा। इस वर्ग के लोगों को यह रूपए डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर किया जाएगा।  इसका लाभ देश के लगभग 3 करोड़ लोगों को होगा। 

 

इसी प्रकार की अन्य सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट WWW.LATESTSCHEME.COM से जुड़े रहिये।

 

 

Rohit Singh

Web Developer SEO Expert Wordpress

You may also like...